Marayoor

Marayoor दक्षिण भारत में स्तित एक अनोखा पर्यटन स्थल हा. यह दक्षिण भारत की केरला राज्ज में स्तिथ हा. यह केरला की और दुसरे पर्यटन स्टाल ओ से कुछ खास हा. येह जगह प्रकृति दिशो के लिए काफी मसूर हा. एहा आपको घने जंगल के साथ पहाड़ी झरने भी देखने को मिल जायेगा. एहा काई खुबसूरत tea garden देखने को मिल जायेगा और उस बगीचों की बिच से गुजरते हुए रस्ते आपको एक अलग ही नजरिया की आनंद प्रदान करेगा.

तो हम आज इस Marayoor की बारे में, मतलब मरयूर घुमने के बारे में बिस्तृत जानकारी हासिल करेंगे. और यह जगह कैसे जाये, कहा रुके, कहा घुमे और भी बहुत कुछ जनने वाला हा. तो चलिए देर किस वात की, सुरु करते हा.

Marayoor कैसे जाये?

आपलोगों में से बहुतो को इस Marayoor की बारे में जायदा जानकारी नही होंगे. कुएँ की यह जगह एक अनोखा और छुपा हुआ खुबसूरत जगहों में से एक हा.

केराला दक्षिण भारत की एक जाने मने पर्यटन राज्ज के नाम से जाने जाता हा. यह जगह लग भग भारत की सभी कोना से बड़े आसानी से पाउच सकते हा. एहा आने की लिए आप अपना नजदीकी रेलवे स्टेशन या हवाई अड्डा से ट्रेन या हवाई जहाज लेके आराम से पाउच सकते हो.

अगर आप ट्रेन से जाना चाहते हो तो आपको Marayoor की सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन Palani Railway Station आना पड़ेगा. यहा से Marayoor की दुरी लग भाग ७० किलोमीटर के आस पास हा. रेलवे स्टेशन से आपलोग टैक्सी नही तो बस लेके बड़े आराम से एहा पोच सकते हो.

अगर आप Marayoor हवाई जहाज़ से जाना चाहते हो तो आप को एहा की नजदीकी हवाई अड्डा Kozhikode हवाई अड्डा तक की टिकेट लेना पड़ेगा. यह हवाई अड्डा इस पर्यटन स्थान से १७४ किलोमीटर की दुरी में स्तित हा. एहा से आप टेक्सी या लोकल बस पकड़ के  Marayoor पाउच सकते हो.

यह सब के अलावा आप सीधा बस से भी वहा पाउच सकते हो. जी हा अगर आप केराला की आस पास की राज्ज, जैसा की कर्नाटक और चेन्नई से हो तो आपको वहा से केराला आने के लिए बहुत सरे बस मिल जायेगा.

Marayoor के मुख पर्यटन स्थानों के बारे में जानकारी

आब आपलोग मरायूर पाउच तो गये लेकिन दिमाग में येही चल रहा होगा की कोण कोण सी जगह घुमे. चलिए अपलोगो की यह समसा की हल आज हम निकल देंगे, मतलब हम आज Marayoor की कुछ खास पर्यटन स्थल की वारे में जानकारी प्रदान करनेवाले हा. तो चलिए निचे वोह सब जगह के वारे में बिस्तित में जानकारी सुरु करते हा.

Marayoor sandalwood forest

मारायूर sandalwood फारेस्ट केरला की एक मात्र जगह जहा पे sandalwood की पेड़ देखने को मिल जाता हा. यह जगह काफी जनप्रिय पर्यटक केंद्र हा. यह जगह मारायूर बस स्टॉप से कुछी दुरी मतलब लग भाग ५ किलोमीटर की दुरी में स्तिथ हा. एहा अपलोगो को करीब करीब ६५००० से ७०००० चन्दन की पेड़ देखनेको मिल जायेगा.

यह जगह को फारेस्ट डिपार्टमेंट दुयारा रिस्ट्रिक्टेड किया गया हा. इस पेड़ की चोरी रोकने के लिए येह वडा और ऊँचा टार की जल से घेरा दिया गया हा. मगर पर्यटक यह जगह घूम सकते हा और चन्दन की पेड़ो की बारे में जानकारी उठा सकते हा. यह जगह घुमने के लिए आप लोगोको फारेस्ट ऑफिस से परमिशन लेना पड़ेगा. परमिशन मिल ने के वाद आपलोग इस जगह के वारे में जानकारी उठा सकते हा और घूम सकते हा.

Megalithic Dolmens Of Marayoor

यह जगह मारायूर बस स्टैंड से मात्र ५ किलोमीटर की दुरी में स्तिथ हा. यह काफी जनप्रिय और ऐतिहासिक जगह हा और यह ड़ोलेमोंस के नाम से जाना जाता हा. यह डोलेमोंस मारायूर के पास कोविकादावु नाम की एक गाब में स्तिथ हा. यह डोलेमोंस असलियत में समाधी कक्ष हा और यह कमसे कम १०००० साल पुराना हा. एहा पे लग भाग २५०० के आस पास डोलेमेन्स अभी भी देखने को मिल जायेगा. यह दोलेमोन देखने को छोटा छोटा घर जैसा हा, और इसके अन्दर में कयिसरे समाधी कक्षा देखने को मिल जाता हा. यह जगह एक हेरिटेज साईट और बरसो पुराने होने की वजा से देश और बिदेश से पर्यटको की भीड़ लगा रहता हा.

Thoovanam WaterFalls

यह जलप्रपात पम्बर नदीकी उपोर स्तिथ केरला की मसूर जलप्रपातो में एक हा. यह जगह जाने के लिए मारायूर से ८ किलोमीटर की दुरी तय करना पड़ेगा. यह जगह जाने का कोई सीधा रास्ता नही हा मतलब आप सीधा कोई साधन के मद्धम से वहा पाउच नही सकते हो. येह जगह जाने के लिए आपको मुन्नार-उदालाम्पेट रोड लेके अलाम्पेत्टी चेच्क्पोस्त पौचना पड़ेगा और उसके वाद ४ किलोमीटर पहेदल जाना पड़ेगा.

इस ट्रैकिंग के समय जरुर कोई फारेस्ट गाइड साथ में लीजियेगा नही तो मुसीवत में पड़ सकते हो. इस ट्रेकिंग के दोरान आप लोग को बहुत सरे जिब जन्त्रू देखने को मिल जायेगा. चेकपोस्ट से जलप्रपात तक जाने के लिए २ घंटा के आस पास समय लग सकता हा. आप लोग जलप्रपात की आनंद उठाने के वाद जंगल में ही रुक भी सकते हो. वहा आपको गेस्ट हाउस और treetop house मिलजायेगा. एहा रुकने के लिए अगर आप पहेले से ही बुक करले तो सही रहगा.

Amravathi Dam

अमरावती जलधर मारायूर के आस पास की अक बेहतेरिन पर्यटन स्थान हा. यह जगह Marayoor town से लग भाग ५० किलोमीटर की दुरे में हा. यह जगह जाने के लिए आपको मारायूर से बस या टैक्सी लेना पड़ेगा. यह एक रिवर डैम हा और यह डैम अमरावती नदी के उपोर सन १९५७ में बनाया गया था. यह डैम करीब ९.३१ बर्ग किलोमीटर में पहेला हुआ हा.

यह डैम दो मोसुर पहाड़ अमरावती और पलानी से घेरा हुआ हा. इस डैम की गहराई करीब ११० फूट हा. इस डैम की पानी में अपलोगो को मगर मच भी देखने को मिल जायेगा. इसके साथ इस डैम की पास में एक खुबसूरत पार्क भी बना हा जो पर्यटक को और भी आकर्शित करते हा. एहा भारत की सबसे वडा मगर मच नर्सरी भी देखने को मिल जायेगा. कुल मिलाके यह जगह एक आधा दिन घुमने के लिए परफेक्ट हो सकता हा.

Ezhuthala Cave Rock Painting

यह जगह मारायूर की एक ऐतिहासिक जगह हा. येह जाने के लिए आपको Marayoor town से ४ किलोमीटर की दुरी तय करना पड़ेगा. एहा अप्प लोगो को एक बिशाल आकिरिती पत्थर देखने को मिल जायेगा जिसका उचाई लग भाग १५०० मीटर हा. इस पत्थर में ९० करुकार्य किया हुआ हा. यह एक बड़ा ग्रेनाइट में खुदाई करके cobra हुड जैसा बनाया गया था. यह ९० पेंटिंग में दरासल आपको लाल और सफ़र रंग देखने को मिल जायेगा और इस पेंटिंग में मानब की बिभिन्न रूप, पशु, हिरन और निलगिरी थर की तस्बीर बनाया गया हा.  

Chinnar Wildlife Sanctuary

chinnar wildlife sanctuary मरायूर ट्रिप का सबसे आकर्षक जगह हा. यह जगह मरायूर से १२ किलोमीटर की दुरी में स्तिथ हा. एहा आप जंगल सफारी और ट्रकिंग के मद्धम से इस जगह को देख सकते हो. इस जंगल में आपको कई तरह की पेड़, फुल, पशु, पक्षी, मछली और जनोयर देखने को मिल जायेगा. एहा अप्लोगोको १००० से भी जायदा धारण की फुल, २२५ से भी जायदा धारण का फौना पेड़, ३४ धरोनो की स्तनपायी प्राणी, ३६ अलग धरनों की गिरगिट, २२ प्रजाति की उवैचार प्राणी और ४२ तरह की अलग मछली देखने को मिल जायेगा. यह जंगल करीब ९० बर्ग किलोमीटर में फेइला हुआ हा. इस लिए एहा घुमने के लिए आपका पूरा दिन जायेगा.

Lakkam Waterfalls

लक्कम जलप्रपात marayoor से १५ किलोमीटर की दुरी में स्तित गुन्दमलाई गाब में स्तिथ हा. यह जगह मारायूर की खुबसूरत जगहों में एक हा. यह जलप्रपात मेन रोड से १० मिनिट की पायडल यात्रा के दुयारा पोचा जा सकता हा. एहा आप लोगो को एक पहाड़ी झरना देख ने को मिल जायेगा. एहा इस झरना की साथ में एक छोटा सा पूल भी हा और येही पूल से पर्यटक इस जलप्रपात की नजरिया उठा सकते हा.

यह जलप्रपात के अलावा एहा अप्प लोगो को और एक खुबसूरत Vagavurai Valley देखने को मिल जायेगा. यह वैली को पूरी तरह से जन ने के लिए आप को ट्रैकिंग करना पड़ेगा. जी हा एहा आपको ट्रेकिंग की भी सभी सुविधा मिल जाएगी.

यह जलप्रपात देखने के लिए आपको २० रूपया का टिकेट वान वाना पड़ेगा और ट्रेकिंग के लिए १०० रूपया का टिकेट वाना ना पड़ेगा.

Marayoor घुमने जाने का सही समय?

Marayoor जाने का सही समय हा अक्टूबर से मार्च का महिना तक. इस समय marayoor weather काफी रंगीन और बेहेतरीन होता हा. यह समय आपलोग मरायूर और उसके आसपास की सबही जगह को आचा से घूम सकते हो.

Marayoor trip के दौरान कहा रुके ?hotels in marayoor?

मरायूर एक जनप्रिय भ्रमण स्थल होने के कारन एहा आपको बहुत सरे होटल और गेस्ट हाउस मिल जायेगा रुकने के लिए. उनमे से कुछ बजट होटल का नाम हम निचे दे रहा हु.

Marayoor Holidays

Chandana Residency Marayoor

River View Inn

Galla residency

Palani cottage Stay

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *